Diwali 2019 : photo , whatsapp and facebook message and greetings

Happy Diwali 2019 : photo , whatsapp and facebook message and greetings quotes


यह देश विदेश में हिन्दू तथा सभी सम्प्रदायों द्वारा मनाया जाने वाला त्योहार है  । इसे  प्रकाश के उत्सव के रूप में मनाया जाता है । यह कार्तिक मास की   अमावस्या के  शुुुभ दिन मनाया जाता है ।  जो नवंबर ऑक्टम्बर में   महीने में   आता है ।  अनेक हिन्दू इसे कृष्ण  चतुर्दशी कहते है ।  इस   दिन    विधी    विधान सेे   घर  का शुद्धिकरण  किया जाता है ।



Happy Diwali 2019 : photo
Happy diwali photo


इस दिन अनेक लोग आपस मे एक दूसरे के गले मिलते हैं है । तथा एक दूसरे को अनेक उपहार देते है । इस दिन पशुओं को नहलाया जाता है। तथा का श्रगार किया जाता है । इस दिन घर पर अनेक प्रकार की मिठाई बनाई जाती है तथा मिल बाटकर खाई जाती है। इस एक दिन बाद गोवर्धन पूजा की जाती हैं तथा अनेक प्रकार पटाके फोड़े जाते है । और गौ माता की पूजा भी की जाती हैं । इस दिन नए कपड़ें बच्चों के लिए ख़रीदे जाते हैं । इसी दिन भगवान राम ने महाराक्षस रावण का वध कर दिया था और अयोध्या लौटे थे ।


Diwali 2019 : photo,  quote and whatsapp message


ऐसे कही शुभ दिन दीवाली से पहले से आते है जो दिवाली के आगमन का सकेंत भर होते है जैसे कि नरक चतुर्दशी जो कि नरकासुर दानव पर भगवान कृष्ण की विजय का प्रतीक हैं । जो कि दिवाली के एक दिन पहले मनाई जाती है । इसी के अगले दिन लक्ष्मी जी का पवित्र पूजन होता है । इसी दिन 
भगवान राम चौदह वर्ष का वनवास काटकर अयोध्या नगरी में आये थे  । 
और अयोध्यावाशी ने इसे बड़े धूमधाम से मनाया था । तब से दिवाली कार्तिक मास अमावस्या के दिन मनाने की प्रथा का चलन है । इस दिन लोग घर लिपाई पुताई आदि कार्य करते हैं । तथा घर पर अधिकांश परिवार दिपक से अपने घर को सुसज्जित करते हैं ।



Diwali 2019 : photo , greetings and message



दीवाली का दिन चोपड़ पूजा के लिए भी जाना जाता है , क्योंकि इस दिन भगवान कृष्ण ने    अर्जुन को कुरुक्षेत्र की रणभूमि मेंं      कर्मयोग का    सिद्धांत दिया था ।   तथा  जैन धर्म के अनुसार इसी दिन भगवान महावीर ने निर्वाण को प्राप्त किया था ।  दिवाली   दिन सायंकाल के दौरान धन    समृद्धि    देेंने वाली माँ लक्ष्मी की  और भगवान    गणेश की पूजा की जाती हैं । यह   पूजन समुन्द्र मंथन के दौरान माँ  लक्ष्मी की उतपत्ति का प्रतीक हैं ।   

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ